What is Noun? संज्ञा के कितने भेद होता है? पुरी जानकारी देहाती भाषा में।

पाठको आज एक नए topic पर बाते करेंगे। जिसका नाम है। संज्ञा यानि हिन्दी व्याकरण का टॉपिक।

संज्ञा क्या है?(What is Noun?)

Ans:- संज्ञा उस विकार शब्द को कहा जाता है, जिससे किसी विशेष वस्तु, जीव और भाव के नाम का बोध हो, उस विकार को संज्ञा कहते है।


किताबी भाषा में:- किसी प्राणी, वस्तु, स्थान, या भाव के नाम को सुचित करने वाले शब्द को संज्ञा कहते है।


देहाती भाषा में:- संज्ञा का परिभाषा एक शब्द में बोला जाए, तो विश्व के किसी भी वस्तु को संज्ञा कहते हैं। 


जैसे:- आम, निम, महुआ, जामुन केवाड़ी, ऐनक, मोबाइल, हैदराबाद मुंबई, पाताल, गगन, इटली इत्यादि।


प्राणियों का नाम- कुता, बकरी, गाय, घोड़ा, मुर्गा, कबूतर, बगुला, कोयल, राहुल, मुकेश, दीपक, प्रांजल, काजल, रानी, प्रियंका, मोहिनी, गांधी जी, नरेंद्र मोदी इत्यादि।


वस्तुओ का नाम- आम, अमरूद, जामुन, टेलीविजन, मोबाईल, कंप्यूटर, रेडियो, कलम, दरवाजा, किताब , बकसा, साइकिल, इत्यादि।


स्थानों का नाम- चीन, गाव, नगर, राज्य, भारत, जापान इत्यादि।


भावों का नाम- बुढ़ापा, जवानी, बचपन, अजूबा इत्यादि।


संज्ञा के कितने भेद होता है चार्ट।

sangya ke kitne bhed hote hai

संज्ञा के कितने भेद होता है? (How many kinds of Noun?)

:- संज्ञा के पाँच भेद होते है (There are five kinds of Noun)

1) व्यक्तिवाचक (Proper noun ) 

2) जातिवाचक (common noun)

3) भाववाचक (abstract noun)

4) द्रव्यवाचक (material noun)

5) समूहवाचक(collective noun)


1) व्यक्तिवाचक (proper noun) क्या है?

जिस किसी शब्द से, किसी विशेष वस्तु, विशेष व्यक्ति, या विशेष स्थान के नाम का बोध प्रकट होता है। व्यक्तिवाचक संज्ञा कहलाता हैं। 


देहाती भाषा में:- किसी खास या विशेष व्यक्ति, स्थान या वस्तु को व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं। 


जैसे:- 

व्यक्ति का नाम:- राहुल, रानी, मुकेश, अनु, सुनील, महेश इत्यादी।


वस्तु का नाम:- बस, ट्रक, सलोनी सरसो तेल, बाइबल, कुरान, रामायण इत्यादि।


स्थान का नाम:- लालकिला, ताजमहल, जलमहाल, उड़ीसा, झारखण्ड इत्यादि।


दिशाओं के नाम:- उत्तर-पश्र्चिम, दक्षिण-पूर्व इत्यादि।


देशों के नाम:- भारत, चीन, जापान, पाकिस्तान, ब्राजील इत्यादि।


सागरो के नाम:- हिन्द महासागर, प्रशान्त महासागर इत्यादि।


नदियों के नाम:- निल, गंगा, यमुना गोदावरी, कृष्णा, सोन, कावेरी, नर्मदा इत्यादि।


ऐतिहासिक युद्धों और घटनाओं के नाम:- पानीपत की लड़ाई, हल्दी घाटी युद्ध,  सिपाही-विद्रोह, इत्यादि।


दिनों, महीनों के नाम:- जून, जूलाई, जनवरी, बुधवार, रविवार इत्यादि। 


उत्सवों के नाम:- वसंत पंचमी, होली, कर्मा, दशहरा, दीवाली, छठ इत्यादि।


2) जातिवाचक क्या है? (What is common noun?)

जिस शब्द से किसी भी जातियों के सभी प्राणियों या प्रदार्थो का बोध प्रकट हो, जातिवाचक संज्ञा कहलाती है।


देहाती भाषा में:- मनुष्य, जानवर, बाजार, बस, गली, तालाब, पहाड़, घर, ट्रक इत्यादि। ये सारे शब्द एक ही प्रकार के प्राणी, स्थान और वस्तु का बोध प्रकट कर रहे हैं।


जैसे:- पशु-पक्षयों, स्त्री-पुरुष, जीव-जंतु, पेड़-पौधे, वस्तु, नदी-तालाब,  पर्वत-पहाड़ इत्यादि।


पशु-पक्षयों:- कुता, बैल, हाथी, घोड़ा, मुर्गी, मोर, हिरन, कबूतर, भेष इत्यादि। जाति शब्द का बोध करा रहे है।


स्त्री-पुरुष:- राहुल, रानी, मनोज, गिता, सुनील, अनील, मनोज, दीपक, मोहीनी, सुशीला, राजा, डौली, इत्यादि। 'स्त्री-पुरुष' का बोध करा रहे है।


नदी-तालाब:- गोदावरी,  गंगा, यमुना, सरस्वती, नील इत्यादि। शब्द नदियों का बोध करा रहा है।


3) भाववाचक क्या है?(What is abstract noun?)

जो शब्द से किसी पदार्थ या प्राणी का भाव-गुण या अवस्था-स्वभाव का बोध प्रकट होता है, वह भाववाचक संज्ञा कहलाता हैं। 


जैसे:-

जुनून, दयालुता, (बुढ़ापा, बचपन, जवानी), इत्यादि। 


यह उदाहरणों से 'जुनून' से मन का भाव है। 'दयालुता' से गुण का बोध हो रहा है। 'बचपन' से  जीवन की अवस्था, दशा का बोध हो रहा है।

अतः जुनून, दयालुता, (बुढ़ापा, बचपन, जवानी), इत्यादि। शब्द भाववाचक संज्ञा कहलाते हैं।


4) द्रव्यवाचक क्या है? (What is material noun?)

वे शब्द जिससे नाप-तौल वाली वस्तु का बोध हो, उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते है।


देहाती भाषा में:- जो शब्दों से किसी भी  द्रव, धातु या पदार्थ का बोध होता है, उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहते है। 


जैसे:- गेहूं, लोहा, ताम्बा, एल्यूमिनियम, पीतल, दाल, कपास, चावल, पानी, घी, नमक, तेल इत्यादि।


5) समूहवाचक क्या है?(what is collective noun?)

जिस शब्द से वस्तु के समूह या समुदाय का बोध होता है, उसे समूहवाचक संज्ञा कहते है।


जैसे:- कक्षा, वस्तुओं का समूह, बंडल, भीड़, खिलाड़ी, जुलुश इत्यादि।


कक्षा:- कक्षा का मतलब किसी वर्ग में विद्यार्थियों का समूह यानी बहुत से विद्यार्थी हैं।


वस्तुओं का समूह:- एक दुकान में एक ही वस्तु बहुत सारे।


बंडल:- साबुन का बंडल, किताबो का बंडल इत्यादि।


भीड़:- बाजार, मेला इत्यादि।


खिलाड़ी:- हाकी, क्रिकेट, फुटबॉल, कबडी खेलो के खिलाड़ी। 


Sangya क्या है? संज्ञा के कितने भेद होता है? इनसे जुड़ी सवाल/जवाब


Q. संज्ञा के कितने भेद होता है?

Ans:- पाच (5)


Q. संज्ञा के कोन-कोन से भेद होता है

Ans:- 1.व्यक्तिवाचक (Proper noun)

2.जातिवाचक (common noun)

3.भाववाचक (abstract noun)

4. द्रव्यवाचक (material noun)

5.समूहवाचक(collective noun)


Q. द्रव्य कौन सा संज्ञा है?

Ans:- द्रव्यवाचक संज्ञा


Q. भीड़ कौन सा संज्ञा है?

Ans:- समूहवाचक संज्ञा


आज हमलोगो ने संज्ञा के बारे में क्या-क्या जाना?

मुझे पुरी तरह से उम्मीद है, कि ये लेख sangya ke kitne bhed hote hai और कौन कौन से।

पढ़ने के बाद sangya ke बारे में काफ़ी जानकारी मिली होगी। इसे मैंने पुरी तरह से देहाती यानि बोल-चाल के भाषा में समझाने कि कोशिश किया हू। और अपने दोस्तों को भी शेयर करे।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां